हरियाली तीज कब है 2022 में | हरियाली तीज मानाने का शुभ मुहूर्त कब है

Hariyali Teej 2022: हरियाली तीज एक महत्वपूर्ण हिंदू त्योहार है जो श्रावण शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता है। जो कि नाग पंचमी (Nag Panchami) के 2 दिन पहले आती है। हरियाली तीज सुहागिन महिलाओं का त्यौहार है। इस दिन सुहागिन महिलायें व्रत रखकर अपनी पति की लम्बी उम्र और खुशहाली की कामना करती हैं। अविवाहित महिलायें भी अपनी इच्छानुसार वर प्राप्ति के लिये हरियाली तीज का व्रत रखती हैं और माता पार्वती और भगवान शिव की पूजा करती हैं।

हरियाली तीज को छोटी तीज (Cchoti Teej) या श्रावण तीज (Shravan Teej) के नाम से भी जाना जाता है। और हरियाली तीज (Hariyali Teej) के पंद्रह दिन बाद आने वाली कजरी तीज (Kajari Teej) को बड़ी तीज के नाम से जाना जाता है।

Hariyali Teej Kab Hai

हरियाली तीज कब है 2022 में (Hariyali Teej Kab Hai 2022 Mein)

हरियाली तीज हर साल मानसून (जुलाई या अगस्त) के समय मनायी जाती है। इस साल 2022 में हरियाली तीज 31 जुलाई 2022 को मनायी जायेगी।

  • हरियाली तीज 2022 (Hariyali Teej 2022) – 31 जुलाई 2022
  • हरियाली तीज 2023 (Hariyali Teej 2023) – 19 अगस्त 2023
  • हरियाली तीज 2024 (Hariyali Teej 2024) – 07 अगस्त 2024
  • हरियाली तीज 2025 (Hariyali Teej 2025) – 27 जुलाई 2025

हरियाली तीज का शुभ मुहूर्त – तृतीया तिथि (Hariyali Teej 2022 – Tritiya Tithi)

जैंसा कि हमने आपको बताया कि हरियाली तीज श्रावण शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनायी जाती है। इस साल की श्रावण शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि का शुरू होने का समय निम्न प्रकार से है। (Source)

  • तृतीया तिथि शुरू होगी: 31 जुलाई को सुबह के 02 बजकर 29 मिनट पर (31 July 2022, 02:59 AM)
  • तृतीया तिथि खत्म होगी: 01 अगस्त को सुबह के 04 बजकर 18 मिनट पर (01 August, 04:18 AM)

हरियाली तीज 2022: पूजा और व्रत (Hariyali Teej 2022: Puja and Vrat Vidhi)

हरियाली तीज (Hariyali Teej) के दिन भगवान शिव (Lord Shiv) और माता पार्वती (Goddes Parvati) की पूजा की जाती है। पौराणिक कहानियों के अनुसार इस दिन (हरियाली तीज) भगवान शिव और माता पार्वती का दुबारा मिलन हुआ था।

हरियाली तीज एक कठोर व्रत होता है। महिलायें बिना अन्न खाये और पानी पिये इस व्रत को करती हैं। इस दिन महिलायें सुखी वैवाहिक जीवन के लिए देवी पार्वती की पूजा करती हैं और साथ में भगवान शिव और गणेश की भी पूजा करती हैं।

हरियाली तीज के दौरान विवाहित महिलायें अपने माता-पिता के घर जाती हैं, हरे रंग की साड़ी पहनती हैं, हरे रंग की चूड़ी और श्रृंगार करती हैं। इस दिन कई स्थानों पर महिलायें तीज के गाने गाते समय झूला झूलती हैं।

Leave a Reply